Voice Of The People

कपिल मिश्रा की सीट छोड़ने के बाद कैसा है करावल नगर विधानसभा में माहौल?

क्या है करावल नगर का चुनावी माहौल? #DelhiElections2020 #JanKiBaatDelhiPoll

Posted by Jan ki Baat on Sunday, January 26, 2020

जन की बात की टीम दिल्ली विधानसभा चुनाव 2020 कवर करते हुए करावल नगर विधानसभा क्षेत्र पहुंची। यहां से पिछली बार आम आदमी पार्टी से कपिल मिश्रा चुनाव जीते थे। पर लेकिन अब वह करावल नगर छोड़कर मॉडल टाउन से चुनाव लड़ रहे है। यहां से भाजपा से पूर्व विधायक मोहन सिंह बिष्ट को टिकट मिली है। जबकि आम आदमी पार्टी से इलाके में नए चेहरे दुर्गेश पाठक को टिकट मिली है।  इलाके की समीकरण की बात करें तो करावल नगर विधानसभा क्षेत्र में पहाड़ी और पूर्वांचलियो का दबदबा वाला क्षेत्र माना जाता है।

क्षेत्र में समस्याओं की बात करें तो यहां की सबसे बड़ी समस्या खराब सड़कें है। करावल नगर में दिल्ली सरकार की डीटीसी की बस सेवा भी उपलब्ध नहीं है।
करावल नगर क्षेत्र के लोगों का कहना है कि विधायक कपिल मिश्रा जब से आम आदमी पार्टी से भाजपा में गए है। तब से उन्होंने क्षेत्र की तरफ मुड़कर नहीं देखा है।

वर्तमान परिस्थितियों की बात करें तो भाजपा प्रत्याशी मोहन सिंह बिष्ट पहले भी तीन बार करावल नगर क्षेत्र से विधायक रह चुके है। भाजपा प्रत्याशी की इलाके में अच्छी पैठ मानी जाती है। जबकि आम आदमी पार्टी प्रत्याशी दुर्गेश पाठक पहली बार चुनाव में खड़े हुए है। क्षेत्र के लोगों के लिए नए चेहरे है।

जन की बात के फेसबुक लाइव में लोगों ने बताया कि लोग राज्य स्तर पर केजरीवाल के चेहरे को प्राथमिकता दे रहे है। और वर्तमान में चल रही दिल्ली सरकार की योजनाएं जैसे फ्री पानी फ्री बिजली और फ्री बस यात्रा से संतुष्ट है। जबकि कुछ लोग इन फ्री की सेवाओं को केवल चुनावी ही बता रहे है।

यदि वर्तमान में टक्कर की बात करें तो आम आदमी पार्टी प्रत्याशी दुर्गेश पाठक और भाजपा प्रत्याशी मोहन सिंह बिष्ट में कड़ी टक्कर दिखाई दे रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

मुश्किलों में आपका साथी जन की बात

लॉकडाउन हमारे बचाव के लिए है। लेकिन जब हमारे मालिक ने हमे तनख्वाह और राशन देने को माना दिया तब हमें मजबूरन ऐसा करना पड़ा

क्यों बना ‘कटघोरा’ छत्तीसगढ़ में कोरोना हॉटस्पॉट ?

दीपांशु सिंह, जन की बात आज लॉकडाउन को लेकर 20 वां दिन है। वहीं पर...

बिहार में एंबुलेंस संचालन का जिम्मा जेडीयू सांसद के पास

नितेश दूबे, जन की बात दरअसल 2 दिन पहले बिहार में एक 3 साल...

भारत में 47% कोरोना मामले 40 वर्ष से कम आयु वर्ग के

नितेश दूबे, जन की बात कोरोना को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय हर दिन शाम को...

Latest

मुश्किलों में आपका साथी जन की बात

लॉकडाउन हमारे बचाव के लिए है। लेकिन जब हमारे मालिक ने हमे तनख्वाह और राशन देने को माना दिया तब हमें मजबूरन ऐसा करना पड़ा

महाराष्ट्र में ट्रेन भेजने पर घमासान जारी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और रेल मंत्री पीयूष गोयल के बीच यह ट्विटर वॉर 24 मई को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फेसबुक लाइव के बाद शुरू हुई।

यूपी में गठित होगा श्रमिक कल्याण आयोग, प्रदेश में ही मिलेगा रोजगार

कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन के बाद देश में लाखों प्रवासी श्रमिक विभिन्न राज्यों से अपने गृह राज्य वापस लौट रहे है।

प्रवासी मजदूरों के हर मुश्किलों में साथ खड़ा है जन की बात

  आज पूरा देश इस महामारी से बचाव के लिए देश में लॉक डाउन जैसी समस्या से जूझ रहा है। इस समय अगर सबसे ज्यादा...