Voice Of The People

भारत में 47% कोरोना मामले 40 वर्ष से कम आयु वर्ग के

नितेश दूबे, जन की बात

कोरोना को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय हर दिन शाम को 4 बजे एक प्रेस कॉन्फ्रेंस करता है। इस प्रेस में गृह मंत्रालय की भी प्रवक्ता मौजूद रहती हैं। सरकार बताती है कि वर्तमान में कोरोना को लेकर क्या स्थिति है। इसी क्रम में आज भी एक प्रेस कांफ्रेंस हुई जिसमें से कुछ चिंताजनक आंकड़े भी सामने आए। स्वास्थ्य मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि अभी तक 4067 केस कोरोना से जुड़े हुए आ चुके हैं और पिछले 24 घंटों में 693 नए मामले सामने आए हैं। प्रवक्ता ने बताया कि सभी मामलों में से 1445 मामले तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं। अभी तक 76% मामले पुरुषों के जबकि 24% मामले महिलाओं के हैं।

आंकड़े चिंता करने वाले

हालांकि स्वास्थ्य मंत्रालय ने जो आंकड़े बताएं हैं वह और देशों के मुकाबले तो कम है लेकिन कुछ चिंताजनक आंकड़े भी हैं।  स्वास्थ्य मंत्रालय ने बताया कि अभी तक भारत में आंकड़ों के मुताबिक 47% कोरोना के मामले 40 साल से कम आयु वर्ग के लोगों में पाए गए हैं। जबकि 34% मामले 40 से 60 के बीच के आयु वर्ग के लोगों के बीच पाए गए हैं। वहीं पर 19% मामले 60 साल के ऊपर के लोगों के बीच पाए गए हैं। वहीं पर कोरना के मामले 76% पुरुष में जबकि 24% महिलाओं में पाए गए हैं।

जबकि हम दुनिया के दूसरे देशों की बात करेंगे तो वहां पर अधिक प्रतिशत मामले 60 से ऊपर आयु वर्ग के लोगों में पाए गए, जबकि भारत में आंकड़ा 19% है। जबकि 40 से कम आयु वालों के बीच मामले 47% तक है ,जोकि चिंताजनक है।

तबलीगी जमात के अधिक मामले

स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक भारत में कुल मामले 4067 है, जबकि इसमें अकेले तबलीगी जमात के 1445 मामले हैं। यानी अगर हम गौर करें तो भारत में करीब 36% कोरोना के मामले तबलीगी जमात के हैं। गृह मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि हमने तबलीगी जमात के करीब 25 हजार वर्कर्स को होम क्वॉरेंटाइन होने का निर्देश दिया है। तमिलनाडु के कुल मामलों में से 80% से अधिक मामले तबलीगी जमात से जुड़े हुए हैं जो कि चिंता का विषय है।

आज ही तबलीगी जमात से जुड़ा हुआ मामला एक उत्तर प्रदेश में पाया गया है। यह शख्स इंडोनेशियाई नागरिक है जो कि यूपी के प्रयागराज में छुपा हुआ था और उसे कोरोना पॉजिटिव पाया गया है।

Must Read

किडनी और कैंसर से पीड़ित मरीजों की मदद के लिए आगे आया जन की बात

जन की बात की टीम के द्वारा लगातार हर संभव प्रयास कर रही है। जिससे इस महामारी के समय हर जरूरत मंद लोगो की...

मुश्किलों में आपका साथी जन की बात

लॉकडाउन हमारे बचाव के लिए है। लेकिन जब हमारे मालिक ने हमे तनख्वाह और राशन देने को माना दिया तब हमें मजबूरन ऐसा करना पड़ा

क्यों बना ‘कटघोरा’ छत्तीसगढ़ में कोरोना हॉटस्पॉट ?

दीपांशु सिंह, जन की बात आज लॉकडाउन को लेकर 20 वां दिन है। वहीं पर...

बिहार में एंबुलेंस संचालन का जिम्मा जेडीयू सांसद के पास

नितेश दूबे, जन की बात दरअसल 2 दिन पहले बिहार में एक 3 साल...

Latest

किस बड़े राज्य में हुए 90% लोग करोना से ठीक ?

भारत में कोरोना के मामले बड़ी तेजी से बढ़ रहे हैं। इसी बीच एक ऐसी खबर भी आती है जो थोड़ी राहत देने का...

कैसे सिर्फ 4 राज्यों में 65% से अधिक कोरोना संक्रमण

नितेश दूबे,जन की बात पिछले 20 दिनों से भारत में कोरोना वायरस के मामले लगातार बड़ी संख्या में बढ़ रहे हैं। तकरीबन हर दिन पिछले...

सरकार कैसे लागू करेगी वन नेशन वन राशन कार्ड स्कीम?

अभिनव शाल्य, जन की बात कोरोना वायरस के संकट के कारण देश में लॉकडाउन के चलते प्रवासी मजदूर को खाने की कमी का सामना करना...

आखिर क्यों और किस थीम पर मनाया जाता है World No Tobacco Day

पूरी दुनिया इस वक्त कोरोना महामारी से लड़ने के लिए तमाम तरह के उपाय कर रही हैं। विश्व की सरकारी भारत में भी केंद्र...