Voice Of The People

पीएम मोदी के हर घर तिरंगा अभियान से मिल रहा है लाखों लोगों को रोजगार

- Advertisement -

जहा देश मे विपक्ष की ओर से हर घर तिरंगा अभियान को लेकर राजनीति हो रही है वही दूसरी तरफ इस अभियान से लाखो लोगो को रोजगार भी मिल रहा है। इस अभियान के जरिए गांवों में महिलाएं आत्मनिर्भर बन रही हैं।

आपको बता दें कि गुजरात में इस अभियान के लिए तिरंगा बनाने का काम महिलाएं कर रही है। महिलाएं इस अभियान से जुड़ कर ना केवल गर्व का हसास कर रही हैं  बल्कि इससे उनकी आमदनी भी हो रही है। महिलाएं इससे होने वाली आमदनी से बच्चों की स्कूल फीस तक भर रही हैं। वही इस अभियान से गुजरात के कई आदिवासी परिवारों को भी रोजगार मिला है। तापी के छिंडिया की आदिम गुट की बहनों के पास आजकल समय ही नहीं, वह तिरंगे के साथ की बांस की 5 लाख से ज्यादा लाठी बनाने में व्यस्त है।

वही बेंगलुरु में हर घर तिरंगा अभियान पर एक दुकानदार का कहना है कि पीएम मोदी द्वारा घोषित ‘हर घर तिरंगा’ अभियान को देखते हुए तिरंगे की मांग में इजाफा हो रहा है जिस से लोगो का रोजगार भी बढ़ रहा है। दुकानदारों का कहना है की हमे ग्राहकों का समर्थन करने में खुशी हो रही है और हम कामना करते हैं कि आने वाले वर्षों में इस अभियान को और गति मिले।

 

देश के नागरिकों को 13 से 15 अगस्त के बीच अपने घरों पर राष्ट्रीय ध्वज फहराने के लिए प्रेरित करने को केंद्र सरकार ने ‘हर घर तिरंगा’ अभियान शुरू किया है और देशभर में 25 करोड़ घरों में तिरंगा फहराने का लक्ष्य रखा है।

आपको बता दें कि मध्यप्रदेश सरकार ने भी इस अभियान के लिए तिरंगा बनाने का काम महिलाओं से ही करवाने का फैसला किया है। मध्यप्रदेश में करीब डेढ़ करोड़ से ज्यादा घरों पर तिरंगा लहराने का लक्ष्य रखा गया है। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने इसके लिए अफसरों की बैठक भी की है।

पीएम मोदी ने की थी अपील

31 जुलाई को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने अपने रेडियो कार्यक्रम ‘मन की बात’ में लोगों से आग्रह किया था कि वे आजादी का अमृत महोत्सव के अवसर पर 13-15 को आयोजित ‘हर घर तिरंगा’ अभियान में शामिल हों। इसके साथ ही उन्होंने अपील की थी कि लोग अपने सोशल मीडिया पेज पर प्रोफाइल पिक्चर के रूप में 2-15 अगस्त तक तिरंगा झंडा लगाएं।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest