Voice Of The People

राष्ट्रवादी पत्रकार प्रदीप भंडारी की मुहिम का असर: मोदी सरकार के अथक प्रयासों से FIFA ने भारतीय फुटबॉल महासंघ का निलंबन हटाया

- Advertisement -

फीफा द्वारा भारतीय फुटबॉल महासंघ पर लगाए गए प्रतिबंध का प्रदीप भंडारी ने अपने शो जनता का मुकदमा के दौरान इसे देश की मुहिम बनाते हुए आवाज उठाई कि, जल्द से जल्द भारत सरकार अपना हस्तक्षेप करके फीफा द्वारा लगाए गए प्रतिबंधों पर जवाबी कार्रवाई करते हुए तुरंत प्रभाव से इस निलंबन को हटवाया जाए उन्होंने इसे भारतीय और भारत की सभी को धूमिल करने वाला बताया।

आपको बता दें कि, फीफा ने सोमवार, 15 अगस्त 2022 को ‘तीसरे पक्ष के अनावश्यक हस्तक्षेप’ का हवाला देते हुए भारतीय फुटबॉल को निलंबित कर दिया था। भारत के उच्चतम न्यायालय ने इसकी सनद लेते हुए बीते सोमवार भारतीय फुटबॉल महासंघ के संचालन के लिये नियुक्त प्रशासकों की समिति (सीओए) को भंग किया और एआईएफएफ का कार्यभार महासंघ के महासचिव सुनंदो धर को सौंपा।

आधिकारिक बयान में कहा गया है, “फीफा परिषद के ब्यूरो ने सर्वसम्मति से तीसरे पक्ष के अनुचित प्रभाव के कारण अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) को तत्काल प्रभाव से निलंबित करने का फैसला किया है, जो फीफा के नियमों का गंभीर उल्लंघन है।”

फीफा ने अपने बयान में कहा कि शासी निकाय को इस बात की पुष्टि मिलने के बाद निर्णय लिया गया था कि एआईएफएफ कार्यकारी समिति की शक्तियों को ग्रहण करने के लिए स्थापित प्रशासकों की समिति के जनादेश को समाप्त कर दिया गया था।

साथ ही, एआईएफएफ प्रशासन ने महासंघ के दैनिक मामलों पर पूर्ण नियंत्रण हासिल कर लिया था। फीफा ने कहा, “फीफा और एएफसी स्थिति की निगरानी करना जारी रखेंगे और समय पर चुनाव कराने में एआईएफएफ का समर्थन करेंगे।”

SHARE
Sombir Sharma
Sombir Sharmahttp://jankibaat.com
Sombir Sharma - Journalist

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest