Voice Of The People

उत्तर प्रदेश के मेरठ में कैसे फैली कोरोना महामारी ?

नितेश दूबे, जन की बात

देशभर में करीब 1400 से अधिक मामले कोरोना के पाए जा चुके हैं जबकि इनमें से अकेले 100 से अधिक मामले उत्तर प्रदेश के हैं। उत्तर प्रदेश की आबादी देखकर यह आंकड़ा काफी छोटा लगता है लेकिन चिंताजनक हैं।प्रदेश में पहला कोरोना संक्रमण का मामला बरेली से आया, जहां पर एक व्यक्ति नोएडा से आया था। वह जिस कंपनी में काम करता था उसमें चार लोगों को कोरोना होने की पुष्टि पहले ही हो चुकी थी। 26 मार्च को रिपोर्ट सैंपल आने के बाद उसको कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई थी। यूपी के नोएडा में सबसे अधिक मामले सामने आए हैं और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने  नोएडा के डीएम का तबादला भी कर दिया है।

नोएडा के एक कंपनी में काम करता था

आपको बता दें कि जिस शख्स को बरेली में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई थी, वह शख्स नोएडा के एक सीजफायर नामक कंपनी में काम करता था। कंपनी के मालिक ने यूके की यात्रा की थी और वहीं से उनको कोरोना हुआ था। मालिक के संपर्क में आने के बाद इस युवक को भी कोरोना पॉजिटिव पाया गया। ऐसी भी खबर है कि इस कंपनी के करीब 16 लोगों को कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई है। कंपनी पर 1857 महामारी के अधिनियम के तहत आपराधिक मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। कंपनी के अधिकारियों ने अपनी ट्रैवल हिस्ट्री छुपाई थी।

मेरठ में कैसे फैला कोरोना?

मेरठ इस वक्त देश के कोरोना के टॉप 10 हॉटस्पॉट शहरों में शामिल हो चुका है।

आपको बता दें 18 मार्च को एक महिला को खांसी,बुखार और जुकाम के कारण मेरठ के मेडिकल कॉलेज में भर्ती किया गया। महिला की ट्रेवल हिस्ट्री अमेरिका की थी,जिसके कारण कोरोना संदिग्ध होने का शक भी था। उसी दिन बुलंदशहर से भी एक मरीज एंबुलेंस से मेरठ के मेडिकल कॉलेज आया और उसका भी सैंपल लेकर दिल्ली भेजा गया। बाद में इनके रिपोर्ट पॉजिटिव निकले और इस तरह मेरठ में कोरोना की शुरुआत हुई। बुलंदशहर का भी युवक जयपुर के मल्टीनेशनल कंपनी में काम करता था और वह विदेशियों के संपर्क में आया था। 

मेरठ में रविवार को एक ही परिवार के 5 लोग कोरोना पॉजिटिव होने की पुष्टि हुई। मेरठ पूरे भारत में छाया रहा और दिल्ली के निजामुद्दीन में हुए जमात में भी मेरठ के कुछ लोग शामिल है। मेरठ में करीब 38 मामले कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की पुष्टि हुई है।

यूपी की क्या है स्तिथि?

यूपी में कोरोना पॉजिटिव के 100 से अधिक मामले सामने आ चुके हैं,जबकि 17 लोगों को ठीक भी कर दिया गया है। चर्चित बॉलीवुड गायक कनिका कपूर भी यूपी के मेडिकल कॉलेज में कोरोना पॉजिटिव पाए जाने के बाद भर्ती हैं। उनका पांचवां रिपोर्ट भी कोरोना पॉजिटिव आया है। 

यूपी में कुल कोरोना टेस्ट मामलों में करीब 4% मामला पॉजिटिव आया है। यूपी में करीब 15 लाख लोगों की स्क्रीनिंग की जा चुकी है और 50 हजार लोगों को चिन्हित कर उन्हें सेल्फ आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई है। 

Must Read

मुश्किलों में आपका साथी जन की बात

लॉकडाउन हमारे बचाव के लिए है। लेकिन जब हमारे मालिक ने हमे तनख्वाह और राशन देने को माना दिया तब हमें मजबूरन ऐसा करना पड़ा

क्यों बना ‘कटघोरा’ छत्तीसगढ़ में कोरोना हॉटस्पॉट ?

दीपांशु सिंह, जन की बात आज लॉकडाउन को लेकर 20 वां दिन है। वहीं पर...

बिहार में एंबुलेंस संचालन का जिम्मा जेडीयू सांसद के पास

नितेश दूबे, जन की बात दरअसल 2 दिन पहले बिहार में एक 3 साल...

भारत में 47% कोरोना मामले 40 वर्ष से कम आयु वर्ग के

नितेश दूबे, जन की बात कोरोना को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय हर दिन शाम को...

Latest

मुश्किलों में आपका साथी जन की बात

लॉकडाउन हमारे बचाव के लिए है। लेकिन जब हमारे मालिक ने हमे तनख्वाह और राशन देने को माना दिया तब हमें मजबूरन ऐसा करना पड़ा

महाराष्ट्र में ट्रेन भेजने पर घमासान जारी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और रेल मंत्री पीयूष गोयल के बीच यह ट्विटर वॉर 24 मई को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फेसबुक लाइव के बाद शुरू हुई।

यूपी में गठित होगा श्रमिक कल्याण आयोग, प्रदेश में ही मिलेगा रोजगार

कोरोना वायरस के कारण हुए लॉकडाउन के बाद देश में लाखों प्रवासी श्रमिक विभिन्न राज्यों से अपने गृह राज्य वापस लौट रहे है।

प्रवासी मजदूरों के हर मुश्किलों में साथ खड़ा है जन की बात

  आज पूरा देश इस महामारी से बचाव के लिए देश में लॉक डाउन जैसी समस्या से जूझ रहा है। इस समय अगर सबसे ज्यादा...