Voice Of The People

कोरोना काल में क्या सोच रही है वाराणसी की जनता, देखिए प्रदीप भंडारी की ग्राउंड रिपोर्ट

देश इस वक़्त कोरोना संकट से जूझ रहा है। कोरोना संकट के बीच देश के आम नागरिक की बात सरकार तक पहुंचाने के लिए जन की बात के फाउंडर एंड सीईओ प्रदीप भंडारी कोरोना काल में 10 राज्यों में 20,000 किलोमीटर से अधिक का सफर किया। जिसमें सभी तबकों की बात प्रदीप भंडारी ने देश के सामने रखी। इसी बीच जन की बात का सफर जा पहुंचा देश के प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के दशाश्वमेध घाट पर जायजा लिया गया, कि आखिर प्रधानमंत्री के संसदीय क्षेत्र के लोग क्या सोचते है?

लॉकडाउन की क्या है स्थिति?

वाराणसी का दशाश्वमेध घाट वहीं इलाका है, जहां पर प्रधानमंत्री मोदी लोकसभा चुनाव 2019 में चुनाव जीत के बाद आरती करने आए थे। लॉकडाउन से पहले यहां पर पैर रखने तक की जगह नहीं होती थी। लॉकडाउन पर लोगों से बात करने पर पता चला कि पुलिस लॉकडाउन का सख्ती से पालन करवा रही है। बाजार में दुकान ऑड इवन के हिसाब से खुल रही है। लोगों ने बताया कि पुलिस बाजार में फालतू घूमने वाले लोगों पर कार्यवाही भी कर रही है। जब प्रदीप भंडारी ने कोरोना से निपटने के लिए प्रधानमंत्री के कदमों को लेकर लोगों से पूछा तो लोगों ने प्रधानमंत्री के कदमों की सराहना की, और लोगों ने कहा कि वह कोरोना प्रबंधन को लेकर प्रधानमंत्री को 10 में से 10 अंक देते है।। जब हमने लॉकडाउन खोलने को लेकर सवाल पूछने पर लोगों ने कहा कि लॉकडाउन को अब खोलना चाहिए। इससे काफी नुकसान ही रहा है। साड़ी विक्रेता ने बताया कि वाराणसी में केस कम होने का सबसे बड़ा कारण है कि लोग जान गए है कि अब कोरोना के साथ ही जीना होगा। यहां लोग सोशल डिस्टेंसिंग का कड़ाई से पालन कर रहें है।

प्रदीप एनालिसिस

वाराणसी में लोग लॉकडाउन का कड़ाई से पालन कर रहे है। लोग अब सरकार से लॉकडाउन खोलने की मांग कर रहे हैं। लोग जान गए कि उन्हें कोरोना के साथ जीना होगा केवल सोशल डिस्टेंसिंग से ही कोरोना से बचाव किया जा सकता है। जैसा प्रधानमंत्री ने कहा है कि जान है तो जहान है, हमें कोरोना से बचाव करते हुए धीरे-धीरे आर्थिक गतिविधियों को खोलना होगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश की जनता से संवाद किया है न कि लुटियंस लॉबी से

  जन की बात के फाउंडर एंड सीईओ प्रदीप भंडारी ने 30 जून को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा दिए गए राष्ट्र के नाम संबोधन का...

देश की जनता ने राहुल गांधी को जवाब दे दिया है।: जय पांडा

जन की बात के फाउंडर एंड सीईओ प्रदीप भंडारी ने जन की बात कन्वर्सेशन सीरीज में आज भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जय...

कोरोना वायरस चीन का बायोलॉजिकल हथियार है: पूर्व मेजर जनरल जीडी बख्शी

भारत और चीन तनाव के बीच जन की बात के फाउंडर प्रदीप भंडारी ने भारतीय सेना के रिटायर्ड मेजर जनरल जीडी बख्शी से विशेष...

जन की बात ऑनलाइन सर्वे- 66% लोगों ने माना चाइना को मिलिट्री के साथ आर्थिक रूप से भी सबक सिखाया जाए

  आपको बता दें कि 15 और 16 जून को भारत और चीन की सेना के बीच हिंसक झड़प हुई थी। जिसमें भारत के 20...

Latest

सरदार पटेल के पत्र लिखने के बावजूद पूर्व प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू ने यूनाइटेड नेशन की सिक्योरिटी काउंसिल की सीट के लिए मना कर दिया...

जन की बात के फाउंडर एंड सीईओ प्रदीप भंडारी ने राज्यसभा सांसद और पूर्व पत्रकार एमजे अकबर का साक्षात्कार लिया। जिसमें उनके हाल ही...

राष्ट्रीय सुरक्षा पर देश को सुभाष चन्द्र बोस और सावरकर से सीखना चाहिए न की गांधी जी से: उदय माहुरकर

जन की बात के फाउंडर एंड सीईओ प्रदीप भंडारी ने राष्ट्रीय सुरक्षा के मुद्दे पर पत्रकार-स्कॉलर उदय माहुरकर से विशेष बातचीत की। इस दौरान...

चीन से फिर आ सकता है एक और वायरस, जानिए सब कुछ जी 4 वायरस के बारे में

अमन वर्मा (जन की बात) कोरोना वायरस के बारे में सभी जानते हैं, चमगादड़ इस  महामारी का कारण है. चमगादड़ों के संपर्क में आने के ...

जानिए कैसे बिहार के पिलीगंज की एक शादी बनी कोरोना का शिकार, दूल्हे की हुई मौत

अमन वर्मा (जन की बात) पटना के ग्रामीण इलाके में एक शादी समारोह संपन्न हुआ, जहां दूल्हे को तेज बुखार था और इसी बीच उसकी...