Voice Of The People

प्रदीप भंडारी ने प्रधानमंत्री मोदी से की अपील:- आपके “देश का सोशल मीडिया” ऐप इस्तेमाल करने से लोग होंगे प्रेरित

- Advertisement -

जन की बात के संस्थापक और सीईओ प्रदीप भंडारी ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को खुला पत्र लिखा। इस पत्र के माध्यम से प्रदीप भंडारी ने देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से विनम्र निवेदन किया कि वह भी अब भारतीय सोशल मीडिया एप्स का इस्तेमाल करें और लोगों को भी प्रेरित करें। इससे भारत डिजिटल स्पेस में आत्मनिर्भरता की ओर आगे बढ़ेगा।

प्रदीप भंडारी ने प्रधानमंत्री मोदी को पत्र कुछ इस प्रकार लिखा:-

विषय :- प्रधानमंत्री मोदी से “देश का सोशल मीडिया” इस्तेमाल करने हेतु विनम्र निवेदन

 

मेरा नाम प्रदीप भंडारी है मैं एक युवा भारतीय मीडिया उद्यमी हूं मैंने अपना डिजिटल वेंचर जन की बात 2016 में शुरू किया था। जब से ये वेंचर शुरू हुआ है तब से मेरी टीम ने 18 में से 16 चुनाव का सही विश्लेषण किया है। मैं सोशल मीडिया ऐप्स लगातार इस्तेमाल करता हूं और उससे मैं अपने विचार और ऐसे मुद्दे जोकि जनता के हित से जुड़े होते हैं उनके बारे में बात करने के लिए इस्तेमाल करता हूं।

मैं आपको यह पत्र चिंता व्यक्त करने के लिए लिख रहा हूं कि किस तरीके से अंतरराष्ट्रीय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म भारत के हित के खिलाफ काम करने की कोशिश कर रहे हैं। अगर हम पिछले कुछ समय में हुई घटनाओं को देखे तो यह बात साबित हो जाती है कि भारत की साख को धक्का देने के लिए काफी बड़ी अंतरराष्ट्रीय गहरी साजिश रची जा रही है, विदेशी कंपनियों द्वारा जिसका नेतृत्व विदेशी सोशल मीडिया कंपनियां कर रही है। इस खतरनाक समय के बीच अब वक्त आ गया है कि अब आपके विजन आत्मनिर्भर भारत के अंतर्गत “देश का सोशल मीडिया” की ओर ध्यान दिया जाए।

मेरा आपसे विनम्र निवेदन है कि आप भी अब विचारों का आदान प्रदान करने के लिए भारतीय सोशल मीडिया “कू” और “मित्रों” जैसे ऐप्स का उपयोग करें। यह मेरी राय है कि इससे सोशल मीडिया के क्षेत्र में भारत आत्मनिर्भर बनेगा और इससे भारतीय लोग भी इन स्वदेशी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म को इस्तेमाल करने के लिए प्रेरित होंगे।

माननीय प्रधानमंत्री जी जब आपने आत्मनिर्भर भारत के विजन को रखा तब भारत के युवा मीडिया उद्यमियों ने “कू”, “मित्रों” और “चिंगारी” जैसे स्वदेशी सोशल मीडिया ऐप बनाएं। 30 अगस्त 2020 को “आत्मनर्भर भारत ऐप इन्नोवेशन चैलेंज” के विजेता “कू” को मन की बात के दौरान आपसे सराहना मिली।

इन एप्स की जड़े भारतीय हैं और यह भारत और भारतीयों को आगे रखते हैं। ऐसा माना जाता है कि सोशल मीडिया सबसे ताकतवर माध्यम है किसी भी विचार को आकार देने के लिए, नैरेटिव क्रिएट करने के लिए और परसेप्शन को प्रभावित करने के लिए। अभी हाल ही में आईटी के पार्लियामेंट्री पैनल ने विदेशी सोशल मीडिया कंपनियों को समन किया था क्योंकि यह लोग अपने प्लेटफार्म का गलत इस्तेमाल कर रहे थे। इनके गलत रवैये पर लोगों ने भी कई बार शिकायत किया है।

वर्तमान में चल रहे किसान आंदोलन के दौरान भी इनके दुर्भावनापूर्ण प्रोपेगेंडा जिसे आपने “फॉरेन डिस्ट्रक्टिव आईडियोलॉजी” का भी नाम दिया है, जारी है। अभी हाल ही में वेरीफाइड ब्लूटिक हैंडल्स द्वारा भारत विरोधी विचारों को ट्वीट किया गया ,जिसे टि्वटर के सीईओ जैक ने लाइक भी किया। यह दर्शाता है कि किस तरीके से भारत के विरुद्ध प्रोपेगेंडा फैलाया जा रहा है।

माननीय प्रधानमंत्री जी आप एक वैश्विक राजनेता है और आप के विजन और आपकी कड़ी मेहनत से देश लंबी छलांग के साथ आगे बढ़ रहा है। स्वदेशी सोशल मीडिया पर आपकी उपस्थिति भारतीय नागरिकों को प्रेरित करेगी कि वह भी देश का सोशल मीडिया ऐप इस्तेमाल करें और सच्ची भावना के साथ डिजिटल स्पेस में आत्मनिर्भर भारत का जश्न मनाए।

 

आपका भवदीय,

प्रदीप भंडारी

फाउंडर एंड सीईओ जन की बात

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest

SHARE