Voice Of The People

दूसरों के जान की इतनी परवाह कि पिछले 9 महीनों में 14 बार प्लाज्मा दान किया

- Advertisement -

देशभर में कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं तो लोगों को कोरोना वायरस से ठीक होने के लिए प्लाज्मा की भी जरूरत पड़ रही है। आपको बता दें कि प्लाज्मा उसी व्यक्ति का लिया जाता है जोकि कोरोना से ठीक हो चुका हो। देश भर में 1 करोड़ 90 लाख से अधिक लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं लेकिन प्लाज्मा डोनेट करने वाले बहुत कम है। हर प्रभावी व्यक्ति लगातार कोरोना से ठीक हुए व्यक्ति से अपील कर रहा है कि वह अपना प्लाज्मा डोनेट करें। इसी बीच महाराष्ट्र के पुणे के एक व्यक्ति ने प्लाज्मा डोनेशन में रिकॉर्ड दर्ज किया है। पत्रिका न्यूज़ रिपोर्ट के मुताबिक पुणे के अजय भाई मुनोत जो कि 50 वर्ष के हैं उन्होंने 9 महीनों में 14 बार प्लाज्मा डोनेट कर अपना नाम गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड में दर्ज किया है।

 

बता दें कि अजयभाई को पिछले साल जुलाई में कोरोना हुआ था, उसके बाद वह ठीक हुए थे। जुलाई के बाद उन्होंने 14 बार प्लाज्मा डोनेशन किया है। अजय भाई ने बताया कि अभी तक उन्होंने सिर्फ इसलिए वैक्सिन नहीं लगवाई है ताकि वह लगातार प्लाज्मा डोनेट करते रहें। उन्होंने कहा कि जब तक उनके शरीर में एंटीबॉडी बनती रहेगी तब तक वो प्लाज्मा डोनेट करते रहेंगे। अजय भाई को दूसरी जान बचाने का इतना शौक है कि वह लगातार प्लाज्मा का डोनेशन करते जा रहे हैं। वहीं पर डॉक्टरों का भी कहना है कि कोई भी स्वस्थ व्यक्ति 14 दिनों के अंतराल पर प्लाज्मा डोनेट कर सकता है। अजय भाई ने पिछले 9 महीने में 14 बार प्लाज्मा का डोनेशन किया है और इससे उनका नाम गिनीज बुक ऑफ रिकॉर्ड्स में भी दर्ज हो गया है।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest