Voice Of The People

एनसीबी ने किया नवाब मालिक के आरोपों का खंडन, एनसीबी का बयान – सबकुछ इनपुट के आधार पर हुआ

- Advertisement -

विपिन श्रीवास्तव, जन की बात

महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मालिक और एनसीबी के बीच तकरार लगातार जारी है । एनसीपी नेता और महाराष्ट्र सरकार के मंत्री नवाब मालिक द्वारा अपने ऊपर लगाए गए गंभीर आरोपों को नकारते हुए एनसीबी ने अभी एक प्रेस कांफ्रेंस की। जिसमें उन्होंने मीडिया को मुम्बई ड्रग मामले की सारी जानकारी साझा की ।

एनसीबी के DDG ज्ञानेश्वर सिंह ने मीडिया को बताया कि मामले में सारी कार्यवाही इनपुट के आधार पर की गई है, और हमने अपना काम पेशेवर तरीके से किया है । ज्ञानेश्वर सिंह ने कहा का की एनसीबी अपनी पूरी प्रक्रिया का कड़ाई से पालन करती है, हम स्वतंत्र गवाहों को शामिल करते हैं लेकिन गवाहों का सत्यापन संभव नही है क्योंकि हमारा फोकस ऑपरेशन पर होता है ।

आगे उन्होंने बताया कि सूचना न फैले इसकी वजह से सभी हाई प्रोफाइल लोगों को सीधे एनसीबी के दफ्तर लाया गया । हमने कुल चौदह लोगों को गिरफ्ताफ किया था जिसमे से छः लोगों को पूछताछ के बाद छोड़ दिया गया था क्योंकि उनके खिलाफ कोई सबूत हमे नही मिले थे ।

कोर्ट का हवाला देते हुए ज्ञानेश्वर सिंह ने कहा कि एनसीबी द्वारा पेश किये गए सबूतों के बाद ही कोर्ट ने आरोपियों को न्यायिक हिरासत में भेजा है । आरोपियों द्वारा मिले इनपुट्स के बाद ही सभी चीजों की बरामदगी की गई है और एक विदेशी समेत कुल दस लोगों को गिरफ्तार किया गया है ।नवाब मालिक द्वारा लगाए गए आरोपों को नकारते हुए एनसीबी ने कहा कि हमारे ऊपर लगाए गए सभी आरोप बेबुनियाद हैं और सिर्फ अनुमान पर आधारित हैं ।

हमने हमारे सूत्रों से प्राप्त जानकारी के आधार पर ही अपनी कार्यवाही की है ।स्वतंत्र गवाहों के सवाल पर ज्ञानेश्वर सिंह ने कहा कि स्वतंत्र गवाह हमारे ऑपरेशन का हिस्सा थे और ऑपरेशन से पहले हम उनमें से किसी को भी व्यक्तिगत तौर पर नही जानते थे ।

आरोपियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए सभी आरोपियों को एनसीबी के दफ्तर लाया गया था और किसी के साथ कोई गलत व्यवहार नही किया गया ।

आगे उन्होंने बताया जिन चौदह लोगों को हिरासत में लिया गया था उन सभी के बयान हमारे पास रिकॉर्ड हैं, उनमें से आठ लोगों के खिकाफ़ हमें सबूत मिले थे, और छः लोगों को सबूत न मिलने के चलते छोड़ दिया गया था ।हमारा ऑपरेशन अभी भी जारी है और हमे पूरा भरोसा है कि हम इस बड़े ड्रग नेटवर्क का भंडाफोड़ करेंगे ।

इसके बाद एनसीबी ने पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए मनीष भानुशाली के सवाल पर मीडिया को बताया कि वो एक स्वतंत्र गवाह हैं। उन्होंने फिर से ज़ोर देते हुए कहा कि हमने छः लोगों को छोड़ा था न कि तीन लोगों को । हमारा किसी से भी कोई संबंध नही है, हम अदालत की देख रेख में तथ्यों के आधार पर काम करते हैं।

आपको बता दें कि आज सुबह ही महाराष्ट्र सरकार के मंत्री एनसीपी नेता नवाब मालिक ने एनसीबी पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा था कि वो भाजपा से मिले हुए हैं और एनसीबी ने ग्यारह लोगों को गिरफ्तार किया था जिसमे से तीन लोगों को ऐसे ही छोड़ दिया गया था। जिसके जवाब में एनसीबी ने अभी यह प्रेस कांफ्रेंस की और नवाब मालिक के सभी आरोपों का खंडन किया ।

इस मुद्दे पर अपनी राय हमसे साझा करने के लिए आप ट्विट्टर पर @jankibaat1 को टैग कर लिख सकते हैं।

SHARE

Sombir Sharma
Sombir Sharma - Journalist

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest

SHARE