Voice Of The People

समीर वानखेड़े के खिलाफ रचा जा रहा है राजनैतिक षड्यंत्र:- प्रदीप भंडारी ने ‘जनता का मुकदमा’ शो में कहा

- Advertisement -

अनुप्रिया, जन की बात

प्रदीप भंडारी ने जनता का मुकदमा के आज के एपिसोड में इस मुद्दे पर अपनी बात उठाई की मामला अब आर्यन खान को जमानत मिलने का नहीं है बल्कि बात यह है कि कैसे महाराष्ट्र सरकार का एक मंत्री अपने अहंकार और व्यक्तिगत बदले को संतुष्ट करने के लिए एक एनसीबी अधिकारी के पीछे लगा हुआ है ।

इस मामले को लेकर प्रदीप भंडारी ने अपनी दलील में कहा:

आर्यन ड्रग्स केस में अब मामला आर्यन को बेल मिलने या ना मिलने का रहा ही नहीं हैं क्योंकि कभी ना कभी आर्यन को बेल मिल ही जाएगी अगर देखा जाए तो इस मामले में एक बड़ा षड्यंत्र रचा गया है। महाराष्ट्र के कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक को यह अवसर दिखा, समीर वानखेड़े से बदला लेने का नवाब मलिक कहते हैं कि उनके दामाद को जो 6 महीने जेल में रखा गया उसके पीछे का कारण समीर वानखेड़े ही है आर्यन खान मामले से वह चाहते हैं कि उनके दामाद की छवि भी सही हो जाए। नवाब मलिक अगर देखा जाए तो इस केस को अपना ईगो बैटल बना चुके हैं एक ऑनेस्ट ऑफिसर जो की एनडीपीएस एक्ट को फॉलो करता है उस पर बेबुनियाद आरोप लगा रहे हैं। आज कोर्ट में आर्यन खान के वकील मुकुल केस की सुनवाई के दौरान कहते हैं कि उनका समीर वानखेड़े के केस से कोई लेना देना नहीं है। मतलब इससे यह तो साफ साबित हो रहा है कि नवाब मलिक आर्यन खान के आड़ में अपना उल्लू सीधा करना चाहते हैं।

आज जब आर्यन और अनन्या की लेटेस्ट ड्रग्स चैट सामने आई जिसमें आर्यन अनन्या से कहते हैं मैं तुमसे गुपचुप गपचुप ड्रग्स ले लुंगा। आर्यन के वकील मुकुल रहौतगी कोर्ट के सामने दलील रखते हैं”की 23 साल के बच्चे को नशा मुक्त केंद्र भेज दो , उनको जेल में बस अब और मत राखो”

मतलब अगर देखा जाए तो किसी लगाए गए आरोप को गलत नहीं ठहराया जा रहा । अब बेल हो ना हो वह मायने नहीं रखता मायने यह रखता है कि कानून अपना काम पूरी निष्ठा और निडरता से कर रहा है। और कुछ लोग कानून का नाम बदले की आड़ में खराब करना चाहते हैं।

जनता का मुकदमा के आज के एपिसोड का हैशटैग #AttackDrugsNotWankhedeथा जोकि शो शुरू होने के कुछ ही मिनटों के बाद KOO और ट्वीटर पर ट्रेंड होने लगा इसी के साथ प्रदीप भंडारी के शो जनता का मुकदमा को डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर भी दर्शकों का बखूबी प्यार मिल रहा है.यूट्यूब के साथ-साथ डेलीहंट एप पर भी जनता का मुकदमा के प्रत्येक एपिसोड को 6.8 करोड़ से ज्यादा लोग देखते हैं।

SHARE

Sombir Sharma
Sombir Sharma - Journalist

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest

SHARE