Voice Of The People

क्या ‘लॉबी’ कठिन शर्तों वाले बेल ऑर्डर पर जश्न मना रही है? : प्रदीप भंडारी की दलील

- Advertisement -

अनुप्रिया, जन की बात

इंडिया न्यूज पर प्रदीप भंडारी का शो जनता का मुकदमा के कल के एपिसोड में प्रदीप भंडारी ने लिबेरल्स औऱ पीआर वालो के मनाये जा रहे जश्न की वजह पूछी औऱ उनको ये भी एहसास दिलाने की कोशिश की कि जिस बात पर वो खुश हो रहे हैं वो असल में बड़ा शर्मनाक विषय है।

इसी विषय को लेकर प्रदीप भंडारी ने शुक्रवार शो के दौरान अपनी दलील में क्या कहा पढ़िए:

लिबेरल्स, पीआर वालों किस बात पर पटाखे फोड़ रहे हो?क्या इस बात पर पटाखे फोड़ रहे हो की आर्यन बिना एनसीबी के इजाज़त मुंबई नहीं छोड़ सकता है, यह इस बात पर की आर्यन को हर शुक्रवार११ से २ बजे तक एनसीबी मुंबई कार्यालय में हाजरी देनी है, या फिर इस बात पर पटाखे फोड़ रहे हो की आर्यन, अरबाज मुनमुन से बात नहीं कर सकता। या क्या इस बात पर लड्डू खा रहे हो की कोर्ट ने आर्यन अरबाज और मुनमुम को नशा चरस गांजा अपराध करने से वॉर्न किया?या इस बात पर लड्डू खा रहे हो की अगर एक भी आदेश की शर्त का उल्लंघन हुआ तो एनसीबी के विशेष न्यायाधीश जमानत रद्द करने के लिए तुरंत लागू कर सकते है। #ARYANBailTruth यही है, इसकी सचाई यही है की यह अभी तक का सबसे कठोर बेल ऑर्डर है। हां नवाब मलिक जी आपने भी #ARYANBAILTRUTH की राजनीतिक सच्चाई आज बता ही दी,एनसीबी तो बहाना है, योगी सरकार द्वारा फिल्म उद्योग का भय असली निशान है।

जनता का मुकदमा के एपिसोड का हैशटैग #AryanBailTruth था जोकि शो शुरू होने के कुछ ही मिनटों के बाद KOO और ट्वीटर पर ट्रेंड होने लगा। इसी के साथ प्रदीप भंडारी के शो जनता का मुकदमा को डिजिटल प्लेटफॉर्म्स पर भी दर्शकों का बखूबी प्यार मिल रहा है। यूट्यूब के साथ-साथ डेलीहंट एप पर भी जनता का मुकदमा के प्रत्येक एपिसोड को 6.8 करोड़ से ज्यादा लोग देखते हैं। प्रदीप भंडारी की पूरी दलील आप नीचे दिए गए लिंक पर जाकर देख सकते हैं और आप ट्विटर पर जाकर इस मुद्दे पर अपनी प्रतिक्रिया @jankibaat1 को टैग करके दे सकते हैं।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest