Voice Of The People

पीएम मोदी की कूटनीति का एक बार फिर दुनिया में बजा डंका, यमन में विद्रोहियों के चंगुल में फंसे भारतीय सुरक्षित वापस

- Advertisement -

दुनिया भर में भारतीय कूटनीति का डंका बजता है और भारत के विरोधी देश भी भारत की कूटनीति की तारीफ करते हैं। एक बार फिर से भारत की डिप्लोमेसी का डंका पूरी दुनिया में बजा है। दरअसल यमन (ओमान) में हूती विद्रोहियों के चंगुल में 7 भारतीय पिछले 3 महीनों से फंसे हुए थे लेकिन अब इन भारतीयों को सुरक्षित बचा लिया गया है और इन्हें भारत लाया जा चुका है।

सभी 7 भारतीय नई दिल्ली पहुंच गए हैं और इन सभी ने भारत सरकार और प्रधानमंत्री मोदी की जमकर तारीफ की। विद्रोहियों के चंगुल से छूटे मोहम्मद जासिम ने एक टीवी चैनल से बात करते हुए कहा कि, “आज हम भारत पहुंचे हैं जिसमें भारत सरकार और प्रधानमंत्री मोदी का बहुत बड़ा योगदान है। पहले हमें लगता था कि हमें निकलने में करीब डेढ़ से दो साल लग जाएंगे, क्योंकि वह लोग बहुत ही अधिक पूछताछ कर रहे थे। लेकिन फिर जब हमारे परिवार को घटना की जानकारी का पता चला और हमें पता चला कि भारतीय राजदूत और यमन के राजदूत बातचीत में लगे हुए हैं, हमें विश्वास हुआ कि हम जल्द ही भारत लौट आएंगे।”

साथ ही मोहम्मद जासीम ने बताया कि यमन में भारत की छवि काफी अच्छी और भारतीयों को काफी रिस्पेक्ट मिलती है। हमें विश्वास था कि हमारी सरकार ने पिछले कुछ सालों में पूरी दुनिया में जहां भी भारतीय फंसे हुए थे, उन्हें बड़े जल्दी वापस लाया है। इससे हमें विश्वास था कि हम भी जल्द ही भारत लौटेंगे।

यमन के विदेश मंत्री बद्र अल्बुसैदी ने भारतीयों की सुरक्षित रिहाई की जानकारी दी और भारत के विदेश मंत्री एस जयशंकर ने उनका धन्यवाद किया।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest