Voice Of The People

शाहीन बाग में अवैध निर्माण हटाने पहुंचा बुलडोजर, धरने पर बैठे कांग्रेसी नेता और स्थानीय नागरिक

- Advertisement -

करीब 2 साल पहले दिल्ली में नागरिकता कानून के खिलाफ प्रदर्शन से देशभर में सुर्खियों में आने वाला शाहीन बाग फिर हंगामे के दौर में है. वजह है MCD का बुलडोजर… आपको बता दें कि दिल्ली के शाहीन बाग इलाके में अतिक्रमण के खिलाफ आज से बुलडोजर एक्शन होने वाला था. जैसे ही MCD का बुलडोजर शाहीन बाग पहुंचा, वहां हंगामा शुरू हो गया.

बुलडोजर के सामने बैठे लोग

जानकारी के मुताबिक, शाहीन बाग इलाके में लोगों ने MCD की कार्रवाई का विरोध किया और बुलडोजर के आगे बैठ गए. कुछ महिलाएं बुलडोजर के ऊपर चढ़ गई. वहीं, कुछ जगहों पर लोग सड़क पर ही धरने में बैठ गए. लोगों ने एमसीडी के खिलाफ नारेबाजी की और जमकर हंगामा काटा. कुछ लोगों को हिरासत में भी लिया गया. लोगों के विरोध की वजह से एमसीडी का बुलडोजर करीब 12:30 बजे शाहीन बाग से वापस लौट गया. फिलहाल अतिक्रमण हटाने की प्रतिक्रिया रोक दी गई है.

अतिक्रमण हटाने का मामला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा

सुप्रीम कोर्ट दक्षिण दिल्ली के शाहीन बाग में एमसीडी की बुलडोजर कार्रवाई के खिलाफ भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (मार्क्सवादी) की याचिका पर आज दोपहर 2:00 बजे सुनवाई करेगा. जानकारी के मुताबिक, शाहीन बाग से बुलडोजर वापस चला गया है. वहां उसने कोई कार्रवाई नहीं की. MCD ने सिर्फ एक बिल्डिंग के आगे खड़ी लोहे की रॉड को हटवाया. ये रॉड रेनोवेशन के काम के लिए लगाई गई थी.

पुलिस बल के CRPF के 100 जवान मौजूद

शाहीन बाग की ताजा स्थिति को देखते हुए अतिरिक्त सुरक्षा बल वहां तैनात किया गया था. शाहीन बाग में सीआरपीएफ की एक अतिरिक्त कंपनी दिल्ली पुलिस के साथ लॉ एंड ऑर्डर के लिए लगाई गई है. इसमें करीब 100 जवान सीआरपीएफ के शामिल है.

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest