Voice Of The People

CAG की रिपोर्ट का हवाला देते हुए केजरीवाल ने कहा- ये आम आदमी पार्टी सरकार की ईमानदारी का सबसे बड़ा सबूत है

- Advertisement -

मंगलवार को विधानसभा में पेश नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (CAG) की रिपोर्ट में कहा गया है कि दिल्ली सरकार के पास 2015-16 से 2019-20 तक रेवेन्यू सरप्ल है.

CAG की रिपोर्ट को ट्वीट करते हुए अरविंद केजरीवाल ने लिखा है, ‘CAG रिपोर्ट कह रही है कि दिल्ली में जबसे आम आदमी पार्टी की सरकार बनी है, तबसे दिल्ली सरकार फायदे में चल रही है. ये आम आदमी पार्टी सरकार की ईमानदारी का सबसे बड़ा सबूत है. इसी ईमानदारी ने हमारे विरोधियों की नींद उड़ा रखी है.’

 

रिपोर्ट में कहा गया है कि 2019-20 में दिल्ली सरकार का राजस्व अधिशेष 7,499 करोड़ रुपये था, जो यह दिखाता है कि राजस्व के खर्च के हिसाब से उसपर पर्याप्त पैसा है. नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक (CAG) की रिपोर्ट को उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया द्वारा विधानसभा सत्र में प्रस्तुत की गई थी.

राज्य के वित्त पर ऑडिट रिपोर्ट दिल्ली सरकार के वार्षिक खातों और इसके सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रमों के कामकाज की एक विश्लेषणात्मक समीक्षा प्रदान करती है.

वहीं, दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ट्वीट कर कहा कि यह है केजरीवाल मॉडल ऑफ गवर्नेंस. जब हर राज्य सरकार को भारी राजस्व घाटे का सामना करना पड़ रहा है, यह केवल और केवल अरविंद केजरीवाल की सरकार है जो 2015 से ही रेवेन्यू सरप्लस में चल रही है. उन्होंने आगे कहा कि ईमानदार राजनीति समृद्धि लाती है.

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest