Voice Of The People

भाजपा की कार्यकारणी बैठक के बहाने तेलंगाना साधने की रणनीति

- Advertisement -

हैदरबाद में आयोजित हुई भारतीय जनता पार्टी की कार्यकारिणी की बैठक में भाजपा नेतृत्व ने जैसे तेवर दिखाए वो भाजपा की भविष्य रणनीति बताने वाली रही है ,भाजपा और मोदी विरोधी दल सकपका जरूर गये होंगे। हैदराबाद की बैठक में भाग लेने से पहले उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री और हिंदुत्व का फायर ब्रांड कहे जाने वाले योगी आदित्यनाथ ने चार मीनार स्थित भाग्यलक्ष्मी मंदिर में पूजा अर्चना कर तेलंगाना व दक्षिण भारत में भाजपा की आगामी आक्रामक रणनीति का संदेश भी दे दिया साथ ही में भाजपा के सभी नेताओं ने हैदराबाद को भाग्यनगर कहकर संबोधित किया । भाजपा ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व व उनके द्वारा किए जा रहे कार्यों के बल पर आगामी 30 से 40 वर्षों तक सत्ता में रहने का संकल्प ले लिया है और उसका रोडमैप भी बना लिया है जिसके कारण सभी विरोधी दलों व नेताओें की नींद हराम हो गयी है। भाजपा ने देश में परिवारवाद और जातिवाद के खिलाफ निर्णायक बिगुल बजाते हुए यह भी तय कर लिया है कि जिन लोगों ने देश पर दशकों तक शासन किया था अब उनको किसी भी हालत में सत्ता में जल्द वापस नहीं आने दिया जाएगा।

बैठक में गुजरात दंगों में प्रधानमंत्री मोदी को सुप्रीम कोर्ट से मिली क्लीनचिट पर भी चर्चा करते हुए राजनैतिक प्रस्ताव में कहा गया है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर दंगों जो आरोप लगाये गए थे सुप्रीम कोर्ट के फैसले से वह पूरी तरह गलत साबित हुए है क्योंकि दंगो के आरोप राजनीति से प्रेरित थे। भाजपा विरोधी सभी दलों, राजनीतिक विचारधारा वाले पत्रकार और कुछ एनजीओ के त्रिकोण ने मिलकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के खिलाफ साजिश रची। पीएम मोदी ने अपने सभी दुखों को भगवान नीलंकठ की तरह अपने गले में धारण किया और कुछ नहीं कहा। मोदी जी ने एसआईटी की पूछताछ का सामना किया और अपमान सहने के बावजूद संविधान के प्रति अपनी निष्ठा के कारण चुप्पी साधे रखी।

भाजपा कार्यकारिणी की बैठक में देश की वर्तमान व आगामी राजनीति के संदर्भ में गहन मंथन किया गया और आगामी 25 वर्षां के विकास कार्यों की विस्तृत रूपरेखा भी तैयार कर ली गयी है । अब सम्पूर्ण भारत में भाजपा के नेतृत्व में राजग गठबंधन को भी मजबूत बनाया जायेगा और इसके लिए नये प्रयोग भी किए जायेंगे। राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व वाली सरकार के कामकाज व आर्थिक नीतियों की सराहना की गयी और कई नये लक्ष्य भी तय किए गये। कार्यकारिणी में भाजपा ने नये साहसिक प्रयोग करने का निर्णय लिया हैं और जिन राज्यों में अभी तक कभी भी भाजपा की सरकार नहीं बन पायी है व पूर्व में किसी कारणवश बनते -बनते रह गयी हैं उन सभी राज्यों में भाजपा की सरकार बनाने का संकल्प लिया गया है। कार्यकारिणी में कहा गया है कि 2024 तक पूर्वोत्तर राज्यों की सभी समस्याओं का समाधान कर लिया जाएगा। तेलंगाना, पश्चिम बंगाल, आंध्र, तमिलनाडु व ओडिषा में भी भाजपा सरकार बनायी जाएगी। प्रस्ताव में कहा गया है कि सीएए लागू करने में देरी हुई है लेकिन इसे लागू करने के लिए भाजपा व केंद्र सरकार पूरी तरह से प्रतिबद्ध है। बैठक में राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू जी के चयन को ऐतिहासिक बताया गया है और कहा गया है कि जो उत्साह कलाम के लिए था वहीं मुर्मू जी के लिए है।आगामी चुनावों में भाजपा नई सोशल इंजीनियरिंग के सहारे चुनाव मैदान में उतरने जा रही है। कार्यकारिणी में साफ संकेत दिया गया है कि अब पार्टी से दूर रहने वाली जातियों और वर्गों को भी साधने की रणनीति बनायी जाएगी। राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में पीएम ने भाजपा को अजेय बनाने के लिए विभिन्न सामाजिक समीकरणों के साथ और अधिक नये प्रयोग करने और विशेषकर उत्तर प्रदेश में पसमांदा मुसलमानां के बीच पैठ बनाने का सुझाव दिया है। कार्यकारिणी की बैठक में उदयपुर जैसी बर्बर घटनाओं पर चर्चा की गयी और कन्हैयालाल जी के निधन पर शोक व्यक्त किया गया। बैठक में 5जी, 6जी, अंतरिक्ष में शोध, गति शक्ति योजना और बुनियादी ढांचे से संबंधित सार्वजनिक क्षेत्र की बड़ी परियोजनाओं पर भी चर्चा की गयी है। बैठक में अग्निवीर योजना और प्रधानमंत्री द्वारा सरकारी नौकरियां में 10लाख लोगों की भर्ती करने की योजना की सराहना की गयी है।तेलंगाना में आयोजित राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गृहमंत्री अमित शाह और राष्ट्रीय अध्यक्ष जे पी नडडा ने एक विशाल जनसभा को संबोधित किया और अपने जोशीले संबोधन से केसीआर सरकार को यह साफ संकेत दे दिया है कि इस बार तेलंगाना में परिवारवादियों की सरकार जा रही है और राज्य के पिछड़ेपन को दूर करने के लिए गरीब जनता ने इस बार भाजपा की सरकार बनाने का फैसला कर लिया है। हैदरबाद में आयोजित रैली में भी वक्ताओं ने परिवारवादी भ्रष्टाचार में लिप्त सरकार पर तीखा हमला बोला । प्रधानमंत्री मोदी की रैली में गजब का उत्साह था और भीड़ मोदी -मोदी के गगनभेदी नारे लगा रही थी जिससे तेलंगाना का राजनीतिक मिजाज समझा जा सकता था।गृहमंत्री अमित शाह ने अपने संबोधन में स्पष्ट कर दिया है कि आगामी 30 से 40 सालों तक भाजपा का युग रहेगा और भारत विश्वगुरु बनेगा। वंशवादी राजनीति, जातिवाद और तुष्टिकरण की राजनीति सबसे बड़ा पाप थे। अब इन सभी का अंत हो रहा है। वहीं प्रधानमंत्री ने भी स्पष्ट कर दिया है कि अब किसी का तुष्टिकरण नहीं अपितु तृप्तीकरण होगा।कार्यकारिणी की बैठक में प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी ने जो नये प्रयोग करने की बात कही है वह महाराष्ट्र की राजनीति के संदर्भ में भी है और गुजरात की राजनीति के संदर्भ में भी जहां भाजपा ने अपना ही पूरा का पूरा मंत्रिंमडल बदलकर रख दिया है और साथ ही अपने धुर विरोधी हार्दिक पटेल को अपने साथ लाकर एक बड़ा दूरगामी संदेश दिया है।

 

SHARE
Anuj Kushwaha
Anuj Kushwaha
Anuj kumar kushwaha Has 4 Year+ experience in journalism Field. Visit his Twitter account @im_Anujkushwaha

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest