Voice Of The People

सुशांत केस में CBI को जल्द चार्जशीट दाखिल करनी चाहिए- प्रदीप भंडारी की दलील

- Advertisement -

गुरुवार को अपने शो जनता का मुकदमा में शो के होस्ट प्रदीप भंडारी ने सुशांत सिंह राजपूत, मामले में अभी तक CBI द्वारा चार्जशीट दाखिल नहीं करने पर मुकदमा किया.

प्रदीप भंडारी ने कहा कि, “कल मैंने हमारे सुशांत सिंह राजपूत की बहन प्रियंका राजपूत से अपने शो में बातचीत की. आज फिर से प्रियंका मेरे शो में आना चाहती थी लेकिन वह बहुत दुखी थी इस वजह से नहीं आ पाई. कल उन्होंने मेरे साथ 760 दिन बाद बैठकर अपने दिल की व्यथा देश की जनता के सामने रखी.”

दोस्तों मैं और तमाम मीडिया वाले जो इस केस को रिपोर्ट कर रहे हैं और सोचते हैं हम न्याय की मुहिम को आगे बढ़ा रहे हैं, हम सब लोग इस मुहिम के बहुत छोटे पात्र हैं. सुशांत की मौत से अगर सबसे ज्यादा किसी को दुख हुआ है तो वह है प्रियंका राजपूत जिनको सुशांत अपनी Soulmate कहते थे. उन्होंने कल कहा कि 760 दिन से उनके भाई के सच को इन्वेस्टिगेशन एजेंसी अभी तक सामने नहीं ला पाई है. प्रियंका ने कहा हमारे सुशांत ने आत्महत्या नहीं की है. प्रियंका तकलीफ में थी, गुस्से में थी लेकिन वह तथ्यों पर बात कर रही थी. जब वह सुशांत के कमरे में गई थी तब ना तो सुशांत की आंखें बाहर थी ना जबान बाहर थी, क्योंकि जब कोई आत्महत्या करता है तो इसी तरह का मंजर होता है सुशांत की बहन प्रियंका एक क्रिमिनल लॉयर है इसलिए वह यह सब कह रही है.

मुंबई की सड़कों में सुबह से लेकर शाम तक 2 साल मैंने इस केस को रिपोर्ट किया, मैंने पाया कि सुशांत के केस में जो शुरुआती तथ्य थे उसने सुसाइड जैसे कोई आशंका नहीं थी. इसीलिए 760 दिन से मैं ऊंची आवाज में कह रहा हूं कि सुशांत का सच सामने आना चाहिए. कल जब मैंने पहली बार सुशांत की बहन से बात करी तो मुझे इस बात पर पूरा विश्वास हो गया कि जो वह कह रही है एकदम सत्य है. सीबीआई अभी तक चार्जशीट दाखिल नहीं कर पाई है, इसीलिए आज सीबीआई से पूरा देश सवाल पूछ रहा है कि आखिर आप चार्जशीट कब तक दाखिल करेंगे. सुशांत की बहन प्रियंका ने कल यह तक कह दिया कि अगर सीबीआई को सबूत नहीं मिल रहे हैं तो वह क्लोजर रिपोर्ट डाल दे, उसके बाद इस मामले को मैं आगे लेकर जाऊंगी.

प्रियंका राजपूत ने एक और खुलासा किया कि सुशांत सिंह राजपूत की जिंदगी में रिया चक्रवर्ती को जबरदस्ती भेजा गया. लेकिन सीबीआई जो चार्जशीट दाखिल कर रही है उसमें जो 35 लोग दोषी हैं उनके नाम सीबीआई नहीं बताती लेकिन सुशांत सिंह राजपूत को नशेड़ी घोषित कर देती है. सत्य यह है कि सुशांत के सच को दबाने के लिए यह पूरी गैंग सब को गुमराह कर रही है. कल सुशांत की बहन ने पूरे देश के सामने इस मामले से जुड़े कई तथ्य बताएं तो सीबीआई भी जनता को सुशांत मामले में एक स्टेटमेंट दे सकती है. यह सबको पता चलना चाहिए आखिरकार क्या जांच पड़ताल हो रही, सच जानना जनता का हक है.

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest