Voice Of The People

भ्रष्टाचार पर पीएम मोदी के इस बयान से मची राजनीतिक दलों में हलचल, पढ़ें पीएम ने भ्रष्टाचार पर क्या कहा

लाल किले की प्राचीर से पीएम मोदी ने आज भ्रष्टाचार पर बड़ा प्रहार किया। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार को मिटाने के लिए आपका साथ चाहिए। आपसे भ्रष्टाचार से लड़ने की शक्ति चाहिए। उन्होंने कहा कि जिन्होंने देश को लूटा, उन्हें लौटाना होगा। बैंक लूटनेवालों की संपत्ति जब्त हो रही है।

- Advertisement -

भ्रष्टाचार करने वालों को दंडित करने के लिए हमें एक समाज के रूप में एक साथ आने की जरूरत- PM मोदी

पीएम मोदी ने कहा कि, एक तरफ वो लोग हैं, जिनके पास रहने को जगह नहीं है, दूसरी तरफ वो लोग हैं जिनके पास अपना चोरी किया हुआ माल रखने की जगह नहीं है, ये स्थिति अच्छी नहीं है, और इसलिए हमें भ्रष्टाचार के खिलाफ पूरी ताकत से लड़ना है। पिछले 8 सालों में डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर के द्वारा आधार मोबाइल और सारी आधुनिक व्यवस्थाओं का उपयोग करते हुए 2 लाख करोड़ रुपए जो गलत हाथों में जाते थे, उसको बचाकर के देश की भलाई के काम में लगाने में हम सफल हुए हैं। जो लोग पिछली सरकारों में बैंकों को लूट लूट कर भाग गए उनकी संपत्ति जब्त कर कर के वापिस लाने की कोशिश कर रहे हैं। कइयों को जेल में जीने के लिए मजबूर कर के रखा है। हमारी कोशिश है, जिन्होंने देश को लुटा है, उन्हे वापस लौटाना पड़ेगा ऐसी स्थिति हम पैदा करेंगे। अब भ्रष्टाचार के खिलाफ मैं साफ देख रहा हूं की हम एक निर्णायक कालखंड में कदम रख रहे हैं । बड़े बड़े चमरबंदी भी बच नहीं पाएंगे इस विश्वास के साथ भ्रष्टाचार के खिलाफ भारत एक निर्णायक कालखंड में कदम रख रहा है । भ्रष्टाचार दीमक की तरह देश को खोखला कर रहा है, मुझे इसके खिलाफ लड़ाई लड़नी है, इस लड़ाई को तेज करना है, इसको निर्णायक मोड़ पर लेकर जाना है। मेरे 130 करोड़ भारतवासियों आप मेरा साथ देने, मैं आपसे आपका साथ मांगने आया हूं, ताकि मैं इस लड़ाई को लड़ पाऊं, और देश इस लड़ाई को जीत पाए।

आज देश में भ्रष्टाचार के प्रति तो नफरत दिखती है, लेकिन कभी कभी भ्रष्टाचारियों के प्रति उदारता भी बरती जाती है। किसी भी देश में ये शोभा नहीं देता। कई लोग तो इतनी बेशर्मी तक चले जाते हैं की कोर्ट में सजा हुई हो, भ्रष्टाचारी सिद्ध हो चुका हो, जेल जाना तय हो चुका हो, जेल जा चुका हो, उसके बावजूद भी उनका महिमामंडन करने में लगे रहते हैं।  उनकी प्रतिष्ठा बढ़ाने में लगे रहते हैं। जबतक समाज में गंदगी के प्रति नफरत नहीं होती तब तक स्वच्छता की चेतना नहीं जागती, वैसे ही जब तक भ्रष्टाचार और भ्रष्टाचारियों के प्रति नफरत नहीं पैदा होती तब तक ये मानसिकता खत्म होने वाली नहीं

आज हम दो बड़ी चुनौतियों का सामना कर रहे हैं – भ्रष्टाचार और परिवारवाद’ या भाई-भतीजावाद- PM मोदी 

पीएम मोदी ने कहा कि, जब मैं भाई भतीजावाद की बात करता हूं तो लोगों को लगता है की मैं सिर्फ राजनीतिक क्षेत्र की बात कर रहा हूं, जी नहीं। दुर्भाग्य से राजनीतिक क्षेत्र किबिस बुराई ने। हिंदुस्तान की हर संस्थाओं में परिवारवाद को पोषित कर दिया है। परिवारवाद हमारी अनेक संस्थाओं को अपने में लपेटे हुए है। और इसकी वजह से मेरे देश के टेलेंट को नुकसान होता है, मेरे देश के सामर्थ को नुकसान होता है। जिनके पास अवसर की संभावनाएं हैं, वो परिवारवाद की वजह से बाहर रह जाते हैं। भ्रष्टाचार का भी एक कारण यही परिवारवाद है, इस परिवारवाद और भाई भतीजा बाद के लिए हमें हर संस्थाओं में एक नफरत पैदा करनी होगी, एक जागरूकता पैदा करनी होगी, तब हम हमारी संस्थाओं को बचा पाएंगे। देश की राजनीति में भी परिवारवाद ने देश के सामर्थ को सबसे ज्यादा जाया किया है, परिवारवादी राजनीति परिवार की भलाई के लिए होती है देश की भलाई के लिए नहीं। और इसलिए आज लाल किले की प्राचीर से संविधान की आन बान शान के लिए मैं आपसे कहता हूं, आइए हिंदुस्तान की राजनीति के शुद्धिकरण के लिए, हमें देश को इस परिवारवादी मानसिकता से मुक्ति दिलाकर, योग्यता के आधार पर देश को आगे ले जाने की ओर बढ़ना होगा।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest