Voice Of The People

भारतीय सेना जुनून के साथ कर रही है गणतंत्र दिवस परेड की तैयारी

- Advertisement -

गणतंत्र दिवस पर होने वाली परेड की तैयारी भारतीय सेना पूरी कर चुकी है अब बस उस तैयारी को अंतिम रूप दीया जा रहा है, दिल्ली के सेना छावनी, ग्राउंड के अंदर दिन-रात जवान इसके लिए खून-पसीना एक कर रही है, जन की बात के सीईओ प्रदीप भंडारी ने परेड की तैयारी से संबंधित एक एक पहलू का जायजा लिया और सेना के वरिष्ठ पदाधिकारियों से बात की…..

26 जनवरी को कर्तव्य पथ पर विशाल परेड का आयोजन होना है, सेना के जवान इस कंपकंपाती ठंड में जब दृष्टता 10 मीटर भी नहीं होती है, हमारे देश के जवान सुबह 4 बजे से ही अपना कठिन अभ्यास शुरु कर देते हैं, एक साथ परेड में शामिल होने वाली कई टुकड़ियां अपनी तैयारी में जुट जाती हैं, कोहरा, ठंड की वजह से भले ही दिल्ली में पारा नीचे है लेकिन जवानों का जोश बिल्कुल हाई, अपनी-अपनी टुकड़ियों के साथ जवान सुबह-सुबह यहां पहुंच जाते हैं और उसके बाद परेड की रिहर्सल शुरू कर दी जाती है, सब कुछ निर्धारित वक्त से शुरू होता है, यानी प्रैक्टिस, नाश्ता, पानी, चाय, आराम, फिर प्रैक्टिस । हर एक काम निर्धारित वक्त से हो इसका पुरा ख्याल रखा जाता है।

सुबह 4 बजे से जवानों की प्रैक्टिस के दौरान आने वाली आवाज़ और दृश्य बहुत ही जोश और ऊर्जा देने वाला होता है, यह दृश्य देखने लायक होता है।
सूत्रों की माने तो इस बार 26 जनवरी 2023 को होने वाले गणतंत्र दिवस कार्यक्रम के मौके पर इजिप्ट यानी मिस्त्र के राष्ट्रपति अब्देल फतेह अल सिसी का बतौर चीफ गेस्ट शामिल होने की सूचना है, पूरे कर्तव्य पथ का रंग रोगन और सफाई की जा रही है ।

रिपब्लिक डे परेड देखने के लिए दर्शकों की काफी संख्या जुटती है इसको लेकर कर्तव्य पथ के चारों ओर 60,000 से अधिक लोगों के लिए कुर्सियां लगाई जा रही हैं। राष्ट्रीय राजधानी में कर्तव्य मार्ग पर होने वाली गणतंत्र दिवस परेड और स्वतंत्रता दिवस पर लाल किला के कार्यक्रमों को देखने के लिए अब ऑनलाइन टिकट खरीदे जा सकेंगे।
पोर्टल(www.aamantran.mod.gov.in) पर जाकर ई-निमंत्रण और ई-टिकट लिया जा सकता है।

भारत के प्रस्ताव पर 2023 को मिलेट्स वर्ष घोषित किया गया है। इसके लिए 2023 के दौरान 140 से अधिक देशों में भारत के दूतावास इस उत्सव में प्रदर्शनी, सेमिनार, वार्ता, पैनल चर्चा आदि के माध्यम से भारतीय प्रवासियों को शामिल करते हुए आईवाईएम पर कार्यक्रम आयोजित करके हिस्सा लेंगे। भारत के प्रतिनिधित्व में पके हुए मिलेट्स के व्यंजन की प्रदर्शनी/प्रतियोगिता का आयोजन भारतीय प्रवासियों की सहायता से किया जाएगा और गणतंत्र दिवस समारोह के एक हिस्से के तहत बाजरे के व्यंजनों को अतिथियों को परोसा जाएगा। राष्ट्रीय कैडेट कोर (NCC) के गणतंत्र दिवस शिविर का दिल्ली कैंट के करियप्पा परेड ग्राउंड में सोमवार को शानदार आगाज हो चुका हैं। इसमें सभी 28 राज्यों और आठ केंद्र शासित प्रदेशों के 2,155 कैडेट्स हिस्सा ले रहे हैं। इनमें 710 लड़कियां भी हैं। शिविर का समापन 28 जनवरी को पीएम मोदी की रैली के साथ होगा।

मंत्रालय के अनुसार सेना भवन (गेट नंबर 2), शास्त्री भवन (गेट नंबर 3), जंतर-मंतर (मुख्य द्वार के पास), प्रगति मैदान (गेट नंबर 1), संसद भवन (रिसेप्शन ऑफिस) में बूथ काउंटर खुलेंगे। संसद भवन में सांसदों के लिए एक विशेष काउंटर 18 जनवरी को खुलेगा, जहां सुबह 10 बजे से 12.30 बजे और दोपहर में 2 बजे से 4.30 बजे तक टिकट मिलेंगे।

भारतीय सेना जितनी भी वेपन और इक्विपमेंट डिस्प्ले कर रही है, वो इस बार सारे स्वदेशी हैं। राष्ट्रपति को गणतंत्र दिवस पर जिस गन से 21 तोपों की सलामी दी जाएगी, वो भी इस बार स्वदेशी होंगे।

SHARE
Sombir Sharma
Sombir Sharmahttp://jankibaat.com
Sombir Sharma - Journalist

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest