Voice Of The People

Do you think Pakistani celebrities working in India should have condemned Uri terror attacks??

Jan Ki Baat makes an attempt to deconstruct the reason behind the silence of Pakistani celebrities over the Uri attack. Pakistani celebrities have been known to publicly emote their condemnation of terrorist attacks that occurred in Europe, and even in some Asian nations. However, their silence on the Uri attack has led many to speculate on the justifiability of their silence. The attack has less to do with bordered existences and more to do with the nature of humanity. Disapproval of terrorism isn’t limited to and for European countries, after all. If one can speak about the terror attacks on Paris, then why abstain from extending the same courtesy to terrorist attacks on India, residents or soldiers.

Militants attacked an Indian Army brigade headquarters in Jammu and Kashmir’s Uri on 18th September, killing 17 soldiers in the most deadly such attack in the northern region of Kashmir in recent years. The attack began at 5.30am in the morning and militants breached the perimeter fence to enter the camp. Four militants were confirmed killed a few hours later, according to an army spokesperson. The attack generated a flood of sympathetic messages from across the globe.

Do celebrities have a moral obligation? Or is it a selective one? Or so they simply want to avoid political entrapments?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

किडनी और कैंसर से पीड़ित मरीजों की मदद के लिए आगे आया जन की बात

जन की बात की टीम के द्वारा लगातार हर संभव प्रयास कर रही है। जिससे इस महामारी के समय हर जरूरत मंद लोगो की...

मुश्किलों में आपका साथी जन की बात

लॉकडाउन हमारे बचाव के लिए है। लेकिन जब हमारे मालिक ने हमे तनख्वाह और राशन देने को माना दिया तब हमें मजबूरन ऐसा करना पड़ा

क्यों बना ‘कटघोरा’ छत्तीसगढ़ में कोरोना हॉटस्पॉट ?

दीपांशु सिंह, जन की बात आज लॉकडाउन को लेकर 20 वां दिन है। वहीं पर...

बिहार में एंबुलेंस संचालन का जिम्मा जेडीयू सांसद के पास

नितेश दूबे, जन की बात दरअसल 2 दिन पहले बिहार में एक 3 साल...

Latest

कौन-कौन से ब्यूटी प्रोडक्ट्स पर्यावरण को नुकसान पहुंचा रहें हैं।

अमन वर्मा (जन की बात) विश्व पर्यावरण दिवस पर सकारात्मक परिवर्तन लाने के लिए, सबसे पहले हमें जानने की जरूरत है की कैसे वास्तव मे...

कोरोना काल में कैसे होगी धार्मिक स्थलों में पूजा? देखिए जन की बात की रिपोर्ट

नितेश दूबे,जन की बात देश में 1 जून से अनलॉक की शुरुआत हो गई। साथ ही साथ 8 जून से देश में सभी धार्मिक स्थल...

जानिए मोबाइल की दुनिया में कितना आत्मनिर्भर है भारत ?

कोरोना वायरस के बाद लगातार अर्थव्यवस्था को होते नुकसान से उबारने के लिए प्रधानमंत्री मोदी ने आत्मनिर्भर होने की बात कही है। चाइना द्वारा करोना...

Are you thinking about Boycotting Chinese phones? Know what the Indian market looks like without Xiaomi, Realme, OnePlus, and more

Aman Verma (Jan Ki Baat) ●Anti-China sentiments are at a high in India right now. ● People on social have been asking others to boycott Chinese...