Voice Of The People

Question on Congress MLA for the method of acquiring money for his campaigning in Jhansi

Jan Ki Baat seeks to ask the Congress MLA from Jhansi, Mr. Rahul Rai about the sources of funding for his campaign that could afford dozens of cars for his prachaar and rallies. Rahul Gandhi’s speeches in Uttar Pradesh usually do reveal his disapproval of Modi government and Demonetization. Gandhi often compares himself to the members of poverty-ridden classes when he recently showed his torn kurta to the people at one of his rallies. Jan Ki Baat attempts to understand this contradiction.

Uttar Pradesh Elections 2017 are soon becoming a source for redemption; not only for the BSP but also for the Congress, which is banking on its before-scams image. Congress has already formed a pre-poll alliance with the Samajwadi Party. UP’s 403 seat assembly will open itself as a battleground for many political leaders.

Rai’s expenditure on his campaigning does hint at an alternate reality than what the Congress is trying to project; how did the Congress leader get such a huge amount of money when the Election Commission has put a limit on funds, and especially when the VP of Congress has politically declared his poverty?

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

मुश्किलों में आपका साथी जन की बात

लॉकडाउन हमारे बचाव के लिए है। लेकिन जब हमारे मालिक ने हमे तनख्वाह और राशन देने को माना दिया तब हमें मजबूरन ऐसा करना पड़ा

क्यों बना ‘कटघोरा’ छत्तीसगढ़ में कोरोना हॉटस्पॉट ?

दीपांशु सिंह, जन की बात आज लॉकडाउन को लेकर 20 वां दिन है। वहीं पर...

बिहार में एंबुलेंस संचालन का जिम्मा जेडीयू सांसद के पास

नितेश दूबे, जन की बात दरअसल 2 दिन पहले बिहार में एक 3 साल...

भारत में 47% कोरोना मामले 40 वर्ष से कम आयु वर्ग के

नितेश दूबे, जन की बात कोरोना को लेकर स्वास्थ्य मंत्रालय हर दिन शाम को...

Latest

आजादी के बाद देश में सबसे बड़ा टिड्डी दल का हमला

  देश के किसानों के लिए इस वक्त करोना वायरस से ज्यादा बड़ा मुद्दा टिड्डी दल का हमला बन गया है। पाकिस्तान से आया टिड्डीयों...

महाराष्ट्र में राहुल गांधी के बयान के बाद सियासी घमासान

महाराष्ट्र में कोरोना के साथ-साथ राजनीतिक घमासान मचा हुआ है। बीजेपी - शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी गठबंधन पर आरोप लगा रही है कि तीनों...

मुश्किलों में आपका साथी जन की बात

लॉकडाउन हमारे बचाव के लिए है। लेकिन जब हमारे मालिक ने हमे तनख्वाह और राशन देने को माना दिया तब हमें मजबूरन ऐसा करना पड़ा

महाराष्ट्र में ट्रेन भेजने पर घमासान जारी

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और रेल मंत्री पीयूष गोयल के बीच यह ट्विटर वॉर 24 मई को महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने फेसबुक लाइव के बाद शुरू हुई।