Voice Of The People

पीएम मोदी ने दिया था एनआरसी पर बयान, हुई थी खूब राजनीति

 

दिल्ली चुनाव का बिगुल भारतीय जनता पार्टी ने 22 दिसंबर 2019 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रैली से फूंका था। इस दौरान प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने केजरीवाल सरकार पर काफी निशाना साधा था। प्रधानमंत्री ने दिल्ली के पानी, बस ,मेट्रो साथ ही साथ अवैध कालोनियों को नियमित करने जैसे मुद्दों पर भी बोला था। प्रधानमंत्री ने एनआरसी और नागरिकता संशोधन बिल पर भी इस रैली में बयान दिया था। प्रधानमंत्री के इस रैली के बाद विपक्ष ने भी बीजेपी को खूब घेरा और अमित शाह पर काफी प्रहार विपक्ष ने किए थे।

क्या बोला था प्रधानमंत्री मोदी ने।:-

*एनआरसी की चर्चा तक नहीं*

आपको बता दें कि दिल्ली के रामलीला मैदान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी 22 दिसंबर 2019 को धन्यवाद रैली को संबोधित कर रहे थे। इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने एनआरसी और नागरिकता संशोधन बिल पर भी सरकार की राय रखी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस रैली में कहा था कि अभी तक उन्होंने ना ही कैबिनेट में, ना ही संसद में एनआरसी जैसे मुद्दों पर चर्चा की है। प्रधानमंत्री ने इस रैली में यह भी कहा था कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश अनुसार अभी तक सिर्फ आसम में एनआरसी कराई गई है। प्रधानमंत्री का बयान ऐसे वक्त पर आया था जब विपक्ष देशभर में एनआरसी और सीएए को लेकर के प्रदर्शन कर रहा था और सरकार को अपने निशाने पर ले रहा था।  प्रधानमंत्री के इस बयान तक शाहीन बाग में धरना प्रदर्शन शुरू भी हो चुका था जो कि दिल्ली की चुनावी राजनीति में काफी चर्चा का विषय बना।

धन्यवाद रैली में प्रधानमंत्री के इस बयान के बाद विपक्ष ने देश के गृहमंत्री अमित शाह पर निशाना साधा था। विपक्ष ने कहा कि गृहमंत्री और प्रधानमंत्री के बयान में भिन्नता है। प्रधानमंत्री अगर कह रहे हैं कि एनआरसी पर चर्चा नहीं हुई तो गृह मंत्री संसद में कैसे बोल देंगे कि एनआरसी की प्रक्रिया जारी है और वह एनआरसी करेंगे। जबकि प्रधानमंत्री ही बोल रहे हैं कि अभी तक कैबिनेट की बैठक में भी इस पर चर्चा नहीं हुई है।

प्रधानमंत्री के बयान के बाद बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी सरकार को निशाने पर लिया। ममता बनर्जी ने ट्वीट किया कि प्रधानमंत्री और गृहमंत्री भिन्न बयान दे रहे हैंतो कौन किसको विश्वास मे ले। निश्चित ही जनता इसका फैसला करेगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

किडनी और कैंसर से पीड़ित मरीजों की मदद के लिए आगे आया जन की बात

जन की बात की टीम के द्वारा लगातार हर संभव प्रयास कर रही है। जिससे इस महामारी के समय हर जरूरत मंद लोगो की...

मुश्किलों में आपका साथी जन की बात

लॉकडाउन हमारे बचाव के लिए है। लेकिन जब हमारे मालिक ने हमे तनख्वाह और राशन देने को माना दिया तब हमें मजबूरन ऐसा करना पड़ा

क्यों बना ‘कटघोरा’ छत्तीसगढ़ में कोरोना हॉटस्पॉट ?

दीपांशु सिंह, जन की बात आज लॉकडाउन को लेकर 20 वां दिन है। वहीं पर...

बिहार में एंबुलेंस संचालन का जिम्मा जेडीयू सांसद के पास

नितेश दूबे, जन की बात दरअसल 2 दिन पहले बिहार में एक 3 साल...

Latest

बस्ती जिले में जन की बात ने किया जरूरतमंदों में राशन वितरण

नितेश दूबे,जन की बात देशभर में इस वक़्त लॉक डाउन का माहौल चल रहा है और लॉकडाउन की वजह से लाखों की संख्या में लोग...

देशभर में कोरोना के एक दिन में रिकॉर्ड नए मामले सामने आए

नितेश दूबे,जन की बात देशभर में कोरोना का कहर इस वक्त रुकने का नाम नहीं ले रहा है।तो वहीं पिछले चौबीस घंटों में कोरोना के...

छत्तीसगढ़ के पहले मुख्यमंत्री अजीत जोगी का 74 साल की उम्र निधन

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन हो गया। 74 साल की उम्र में उन्होंने अंतिम सांस ली। अजीत जोगी को कार्डियक अरेस्ट...

किडनी और कैंसर से पीड़ित मरीजों की मदद के लिए आगे आया जन की बात

जन की बात की टीम के द्वारा लगातार हर संभव प्रयास कर रही है। जिससे इस महामारी के समय हर जरूरत मंद लोगो की...