Voice Of The People

श्री राम नगरी अयोध्या मे दीपोत्सव पर 9 लाख दीये और 500 ड्रोन बनाएंगे आयोजन को खास

- Advertisement -

रिषभ सिंह, जन की बात

दिवाली दीप उत्सव 2021 में इस बार 7.50 लाख दीप जलाकर नया विश्व रिकॉर्ड बनाने की तैयारी है। इसकी तैयारियां जोरों शोरों पर चल रही हैं। अवध विश्वविद्यालय ने कमर कस ली है और ज़ोर शोर से तयारी चल रही है। इस काम में 12 हजार स्वयंसेवक लगाए आरएसएस। राम की पैड़ी के 32 घाटों पर 8,91,650 दीप जलाने की कार्ययोजना को अंतिम रूप दिया जा चुका है। प्रत्येक घाट पर दीपों की संख्या का निर्धारण कर लिया गया है। इस समय विश्वविद्यालय के वॉलंटियर्स दीप जलाने के लिए घाटों पर मार्किंग करने में जुटे हैं।

भगवान राम के लंका विजय के बाद अयोध्या लौटने की खुशी में मनाए जाने वाले दीपोत्सव में योगी सरकार ने भव्यता देनी शुरू की है। दिवाली से एक दिन पूर्व छोटी दिवाली दीपोत्सव का आयोजन शुरू किया। तब से हर वर्ष यह उत्सव नए-नए आयामों में भव्यता को स्पर्श करता रहा है। दीप जलाने के विश्व रिकॉर्ड भी बनते रहे हैं।

इस बार दीपोत्सव में अयोध्या अपना ही रिकॉर्ड तोड़ने पे लगा हुआ है । 7.50 लाख दीप जलाने का लक्ष्य रखा गया है। इसके लिए राम की पैड़ी के 32 घाटों का चयन हुआ है। हर घाट पर स्वयंसेवकों व दीपों की संख्या का निर्धारण कर दिया गया है। कुल 32 घाटों पर लगभग नौ लाख (8,91,650) दीप जलाए जाने की तैयारी है।

नौ लाख दिए जलाने में खर्च होंगे 1.24 करोड़

दीपोत्सव में नौ लाख दिए जलाने में कुल 1.24 करोड़ रुपये खर्च होंगे। क्षेत्रीय पर्यटन अधिकारी आरपी यादव के मुताबिक एक लाख दीपक अयोध्या के प्रमुख मंदिरों पर भी जलेंगे। साथ ही मंदिरों में लाइटिंग की भी व्यवस्था की जा रही है। इस साल पुराने सरयू पुल को फूलों से सजाया जाएगा।

रामजन्मभूमि में रामलला के दरबार को भी फूलों से सजाने की तैयारी है। यहां 30 हजार दिए जलाए जाएंगे। वहीं संस्कृति विभाग द्वारा आयोजित कार्यक्रमों रामराज्याभिषेक यात्रा, सांस्कृतिक कार्यक्रम, लोक कलाओं की प्रस्तुति आदि में कुल एक करोड़ 54 लाख रुपये व्यय होने का अनुमान है। रामलला पर 26 लाख का व्यय आएगा, जिसे पर्यटन विभाग वहन करेगा।

सात से 10 दिन तक हो सकता है दीपोत्सव का आयोजन

कहा जा रहा है कि इस बार के दीपोत्सव का आयोजन सात से दस दिन तक हो सकता है. इसके साथ ही 3 नवम्बर को होने वाले दीपोत्सव के दिन प्रधानमंत्री मोदी के भी कार्यक्रम में शामिल होने के कयास लगाए जा रहे हैं. जिसकी तैयारी भी अभी से शुरु हो गई है. जानकारी के मुताबिक इस बार दीपोत्सव में 500 ड्रोन की मदद से एरियल ड्रोन शो की भी योजना है. एरियल ड्रोन शो में भगवान राम के जीवन पर आधारित आकृतियां आसमान में प्रदर्शित की जाएंगी.

राम नगरी अयोध्या में भव्य स्तर पर दीपोत्सव कार्यक्रम आयोजित किया जाता है और हर साल लाखों दीये जला अपना ही रिकॉर्ड तोड़ा जाता है. इस बार फिर बड़े स्तर पर दीपोत्सव कार्यक्रम की तैयारी है और इस बार भी पिछला रिकॉर्ड तोड़ने की बात कही जा रही है.

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest