Voice Of The People

सीएम योगी द्वारा कैराना में हिंदुओं की ‘घर वापसी’ सुनिश्चित होने पर प्रदीप भंडारी का मुकदमा

- Advertisement -

विपिन श्रीवास्तव, जन की बात

कल यूपी के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कैराना के दौरे पर थे। ये वही कैराना है जहां से 2016 में 450 से ज्यादा हिंदू पलायन कर गए थे लेकिन 2017 के बाद से योगी आदित्यनाथ ने अपराधियों पर अंकुश लगा कर कैराना में हिंदुओं की वापसी सुनिश्चित की।

कल योगी कैराना में वापस आये हिंदू परिवारों से मिले और उन्हें आश्वाशन दिया कि अब उन्हें किसी से डरने की जरूरत नही है । योगी के इस कैराना दौरे को एक तरह से उनके चुनावी अभियान की शुरुआत की तरह देखा जा रहा है और इसी मामले पर कल जनता का मुकदमा में प्रदीप भंडारी ने अपना मुकदमा लड़ा और उन्होंने दलील दी की कैराना के अपराधियों पर कार्यवाही होनी चाहिए ।जनता का मुकदमा पर कल प्रदीप भंडारी के साथ यूपी की लगभग सभी प्रमुख पार्टियां जुड़ीं जिनमे मुख्यतः बीजेपी, समाजवादी पार्टी, आरएलडी, कांग्रेस और बीएसपी ने इस मामले पर अपनी अपनी दलील रखीं ।

शो में सबसे पहले कल प्रदीप भंडारी के साथ कैराना के एक पीड़ित परिवार के सदस्य राजीव जैन भी जुड़े, उन्होंने बताया कि पहले सरकार के समय कैराना में अच्छा माहौल नही था दिनदहाड़े हत्या कर दी जाती थी, पुलिस वाले शिकायत तक दर्ज नही करते थे। लेकिन अब योगी जी के शासन में उन्हें सुरक्षा मिली है और वो अच्छा महसूस कर रहे हैं ।

उसके बाद प्रदीप भंडारी के साथ सभी पार्टियों के प्रवक्ता जुड़े जिनमे सबसे पहले RLD के संदीप चौधरी ने कहा कि ‘कैराना पलायन अपराधियों की वजह से हुआ इसके लिए किसी एक धर्म और जाति को कसूरवार ठहराना सही नही है’

प्रदीप भंडारी के सवाल सिर्फ चुनाव के वक़्त ही कैराना क्यों आता है ? के जवाब में बीजेपी प्रवक्ता संजय चौधरी ने कहा:

‘उत्तर प्रदेश में परिवर्तन अब कैराना में दिख रहा है, पहले लोग पलायन करते थे और अब वापस आ रहे हैं, अब लोग सम्मान से कैराना में रह रहे हैं उनको सुरक्षा भी मिल रही है और वो अपने व्यवसाय को भी बढ़ा रहे हैं। जहां कभी भय का वातावरण था वहां अब बदलाव आ चुका है’

वही दूसरी तरफ कांग्रेस प्रवक्ता कृष्ण कांत पांडे ने सीधे सीधे मुख्यमंत्री योगी पर आरोप लगाते हुए कहा कि ‘मुख्यमंत्री योगी लखीमपुर, उन्नाव, हाथरस, और ललितपुर कब जाएंगे ? जहां पर एक लड़की को पेट्रोल डालकर जला दिया जाता है क्या वहां पर मुख्यमंत्री को जाने मे शर्म आ रही है ? शहीद किसानों को श्रद्धांजलि देने मुख्यमंत्री जी कब जाएंगे ?’

योगी के कैराना दौरे को लेकर पूछे गए सवाल पर समाजवादी पार्टी के पूर्व मंत्री ने कहा: ‘जब भी किसी की सरकार होती है तो विकास भी होता है और घटनाएं भी होती हैं, और मुझे याद है जब यह घटना हुई थी तो अखिलेश यादव ने प्रेस कांफ्रेंस की थी और उस वक़्त उनकी आंखों में आंसू थे’

इसके बाद प्रदीप भंडारी ने एक के बाद एक सभी पार्टियों से कैराना को लेकर तीखे सवाल किए जिनके जवाब में ज्यादातर विपक्ष बातों को घुमाने का काम करता नजर आया । जनता का मुकदमा का कल का पूरा एपिसोड आप ऊपर दिए हुए लिंक पर देख सकते हैं और इस मुद्दे पर अपनी राय KOO के माध्यम से हमसे साझा कर सकते हैं ।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest

SHARE