Voice Of The People

सोनाली फोगाट की हत्या का असली मास्टरमाइंड कौन  – प्रदीप भंडारी की दलील

- Advertisement -

शुक्रवार को अपने शो जनता का मुकदमा पर शो के होस्ट  प्रदीप भंडारी ने सोनाली फोगाट के न्याय की मुहीम को आगे बढ़ाते हुए आज का मुकदमा किया।

प्रदीप भंडारी ने कहा कि, इंडिया न्यूज़ ने आपको सबसे पहले बताया था कि सोनाली फोगाट को हार्टअटैक नहीं आया उन्हें जबरन ड्रग्स दिया गया हैं। आज गोवा पुलिस ने भी इसकी पुष्टि कर दी है, गोवा पुलिस ने रात भर सोनाली के PA सुधीर सांगवान और दोस्त सुखविंदर से पूछताछ की है। इस दौरान खुलासा हुआ है कि सोनाली फोगाट को ड्रग्स दिया गया था। गोवा पुलिस ने बताया कि सामने आया है कि सोनाली को जबरन ड्रग्स दिया गया था। सोनाली के PA सुधीर सांगवान और दोस्त सुखविंदर वासी ने पूछताछ में सोनाली को जबरन ड्रग्स देने की बात कबूल भी की है।

कल दोपहर 3 बजे से हम आपको बता रहे है की सोनाली के PA सुधीर सांगवान और दोस्त सुखविंदर उन्हे ड्रग्स देकर मरने की कोशिश कर रहे थे। आज गोवा पुलिस ने इस मामले में भारतीय दंड संहिता की धारा 302 (हत्या) जोड़ी है. और दोनो को गिरफ्तार कर लिया गया है। इन दोनो ने सोनाली को जबरन ड्रग्स देने की बात कबूल भी ली है।

प्रदीप भंडारी ने आगे कहा कि,मतलब हार्ट अटैक नहीं था साथ में गोवा पुलिस इस बात की भी जांच में जुटी है कि वह कौन से पुलिस ऑफिशल्स थे जिन्होंने पहले सोनाली फोगाट की मौत का कारण हार्ट अटैक बताया था। मतलब इसके अंदर षड्यंत्र का भी एंगल जुड़ा हुआ है। दोस्तो सोनाली को मारने के पीछे एक ड्रग्स का नाम है “डॉली ड्रग्स”।

 

सोनाली फोगाट का मौत से पहले एक CCTV फुटेज सामने आया है जो हम सुबह से अपने दर्शकों को दिखा रहे थे, उस CCTV फुटेज में सोनाली के पैर लड़खड़ा रहे हैं, वे खुद से चलने की हालत में नहीं हैं। उस वीडियो में देखा जा सकता है की सोनाली का PA सुधीर उन्हें मौके से कही लेकर जा रहा है। दूसरा साथी सुखबिंदर भी वहां मौजूद है।

SHARE

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

Must Read

Latest